Ncerthelp.com

Class 9th-12th

CGBSE Class  12th open book paper Solution 2021

CGBSE Class 12th Hindi Paper Set-C Solution

उत्तर 1. हिंदी गीत समायोजन शक्ति से लेखक का अभिप्राय हिंदी की ऐसी भाषा है, इनमें अन्य भाषाओं और संस्कृतियों के शब्दों को सहजता से स्वीकार है।

उत्तर 2. शुद्धतावादी का अभिप्राय है कि आज के समय में हिंदी का ज्यादा कठिन ना बनाकर सरल और सहज बना सके ताकि सूचना क्रांति और तकनीकी विकास में भाषा का आयोग है।

उत्तर 3. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस

प्रस्तावना. स्वास्थ्य संगठन WHO ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। कोरोना वायरस बहुत सूचना लेकिन प्रभावी वायरस कोरोना वायरस मनुष्य की नाल की तुलना में 900 गुना छोटा है। लेकिन करुणा का संक्रमण दुनिया भर में तेजी से फैल रहा है।

कोरोना वायरस क्या है. कोरोना वायरस (सीओबी) का संबंध वायरस के जैसे परिचार से हैं।जिसके संक्रमण से जुखाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है।इस वायरस पर सबसे पहले कभी नहीं देखा गया। संक्रमण चीन के वुहान में शुरू हुआ था WHO के मुताबिक बुखार ,खांसी ,सांस लेने में तकलीफ उसके लक्षण हैं।अब तक इस वायरस को फैलाने से रोकने वाला कोई भी टीका नहीं बन पाया। इसके संक्रमण के फल स्वरुप बुखार जुकाम सांस लेने में तकलीफ नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होते हैं।यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है इसीलिए इससे बहुत सावधानी बरतनी चाहिए।

क्या है इस बीमारी के लक्षण

कोविड-19 कोरोना वायरस से सबसे पहले बुखार होता है। इसके बाद सूखी खांसी होती है और फिर एक हफ्ते बाद सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। इन लक्षणों का मतलब हमेशा यह ही नहीं है कि आपको कोरोना वायरस का संक्रमण है कोरोना वायरस के गंभीर मामलों में निमोनिया सांस लेने में बहुत परेशानी किडनी फेल होना यहां तक की मौत भी हो सकती है। बुजुर्गों या जिन लोगों को पहले से अस्तमा मधुमेह या हार्ट की बीमारी है उनके मामले में खतरा गंभीर हो सकता है।जुकाम और फ्लू में इस तरह के लक्षण पाए जाते हैं।

 कोरोना हो जाए तब क्या करें

इनके मुताबिक हर बार हाथों को साबुन से धोना चाहिए। इस समय कोरोना वायरस का इलाज नहीं है लेकिन इसमें बीमारी के लक्षण कम होने वाली दवाइयां दी जा सकती हैं जब तक आप ठीक ना हो जाए तब तक आप दूसरों से अलग रहे हैं।

कोरोना वायरस की इलाज के लिए वैक्सीन विकसित करने पर कैसे काम कर रहा है।

इस साल के अंत तक इंसानों पर इसका नियंत्रण कर लिया जाएगा।

कुछ अस्पताल एंटीवायरल दवा का भी परीक्षण कर रहे हैं।

WHO द्वारा जल्दी कोरोना वायरस का खात्मा कर दिया जाएगा।

क्या है इसके बचाव के उपाय

 स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोनावायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए। अगर हाथ लग जाए तो तुरंत हाथ धो लेना चाहिए।

मास्को को ऐसे पहनना चाहिए कि आपकी नाक मुंह और दाढ़ी का हिस्सा ढका रहे।

हर रोज मास्क बदल लेना चाहिए।

कोरोना का खतरा कैसे करें कम

करुणा से मिलने जुलने वायरस खांसी और चेक से गिरने वाली बूंदों के जरिए फैलने से रोकें ।

अपने हाथ अच्छी तरह धोएं।

खांसते व छींकते वक्त अपने मुंह को ढक लें।

कोरोना का संक्रमण फैलने से कैसे रोके

सार्वजनिक वाहन जैसे बस, ट्रेन, ऑटो, टैक्सी से यात्रा ना करें।

घर पर मेहमान ना बुलाए।

घर का सामान किसी और से मंगाए।

ऑफिस स्कूल पार्टी व सार्वजनिक जगहों पर ना जाएं।

अलग कमरे में रहे और सारा रसोई व बाथरूम को लगातार साफ करें।

14 दिनों तक ऐसा करें जिससे संक्रमण का खतरा कम रहे।

 उत्तर4. (द्वारा)

                                       अशोक चरण                     

छत्तीसगढ़ नगर

रायपुर

प्रति 

अधिक्षक

प्रधान डाकघर

 रायपुर छत्तीसगढ़

 विषय- डाक वितरण में अनियमितता के संबंध में,

महोदय,

मैं छत्तीसगढ़ नगर क्षेत्र का निवासी हूं मैं आपका ध्यान डाक विनाश की अनियमितता की ओर आकर्षित करना चाहता हूं वस्तु स्थिति करना की जानकारी देना चाहता हूं इस क्षेत्र में डाकिया नियमित रूप से डाक का वितरण नहीं करना है वह सप्ताह में एक-दो दिन किस कॉलोनी में आता है हम लोगों के पत्र दूसरों के घर में डाल कर चला जाता है डाकिया की लापरवाही जिद्द हो रही है मेरा लक बैंक में नौकरी हेतु  पत्र मेरे पड़ोसी के पास मे समय पर कार्य यार ग्रहण नहीं कर सका पड़ोसी के चचेरे लड़के की शादी का निमंत्रण पत्र शादी के पश्चात मिला इस प्रकार डाकिए की लापरवाही के कारण कई आवश्यक पत्र विहान से प्राप्त हो रहे हैं उसे कोई असर नहीं होता। अतः आपसे निवेदन है कि आप हमारी कॉलोनी की डाकिए को इस क्षेत्र के लिए नियुक्त कर दिया जाए ताकि इस डाकिए को कर्तव्य के प्रति समाज सगज किया जाए उचित कार्रवाई की सूचना मुझे भी दिया जाए।

धन्यवाद

नाम-

पता-

दिनांक-

उत्तर 5. 

(अ). इंटरनेट पत्रकारिता इंटरनेट पर समाचारों का प्रकासन या आदान-प्रदान इंटरनेट पत्रकारिता कहलाता है जैसे ई मेल ।

(ब) पत्रकारिता में जीत जानकारी हुआ दिलचस्पी के आधार कार्ड विभाजन को कहते हैं।

(स) कुटीकरण या एनकोंडिंग का अर्थ किसी को दिया गुप्त भाषा में से जो उसका संदेश होना है  जो कहना चाहते हैं। उसको प्राप्त करना ही इनकोडिंग कहलाता है।

(द) संपादक समाचारों के संबंध से उसकी प्रमाणिकता और निस्पंदना की जांच करना है।

उत्तर 6. नाटक: नाटक रंगमंच पर पत्रों के द्वारा दृश्य श्रव्य काव्य  का एक भेद एवं ग्रंथ से की प्रमुख विधाओं में से एक है। इसकी रचना प्रक्रिया निम्न प्रमुख तत्वों या तत्वों पर विशेष रूप से आधारित होती हैं। अतः इनका ध्यान देना दिया जाना निहांत आवश्यक है।

संवाद तत्व की तीन विशेषताएं

1. नाटक से समवाद योजना का विशेष महत्व है। इसी से कथावस्तु अनुकूल विविध पत्रों के व्यक्तित्व निर्धारण अथवा चरित्र चित्रण में नाटक कारक की सफलता होती है। संदेश के मूलाधार भी बहुत कुछ संवाद योजना मे समाहित होता हैं।

2. संवाद द्वारा ही वस्तु का उद्घाटन तथा चरित्र का विकास करना है।

3.संवाद तथ्य ,सरल, सुबोध तथा संभाविक पत्रा अनुकूल होता है जिससे दार्शनिक विजयो से उनकी वाधा नहीं होती।

उत्तर 7. वर्तमान परिवेश में सबसे बड़ी समस्या खाद्य पदार्थों में मिलावट की समस्या है। दूध का पनीर खाद्य तेलों में मिलावट की समस्या पुराने छापेमारी में कुछ लोगों को पकड़ा भी जाता है। कानून के लंबे हाथ होते हैं। खाद्य पदार्थों में मिलावट करके यह लोग को स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं इस प्रकार के धंधे में वह करोड़ों रुपए कमाने लगते हैं। सरकारी अफसरों एवं अधिकारियों के साथ साथ गांठ होनी चाहिए। अब तो फलों व सब्जियों में भी मिलावट होने लगी मसालों को भी नहीं और दूध नकली पनीर खुले आम बिक रहे हैं। यह स्वार्थी प्रवृत्ति के लोग अपने स्वार्थ सिद्धि हेतु आम लोगों के जीवन का सौदा कर रहे हैं।

उत्तर 8.

(क) कृषि अपने प्रियतम पर आधारित में उड़ेलता है जो पुनः भर-भर कर आता है।

 (ख) कृषि ने दिल की तुलना बहते हुए झरने से की है क्योंकि उसका पानी मीठापन रहता है।

(ग) कवि के मन में अपने प्रियतम के प्रति अपार स्नेह उनको ऐसा लगता है कि प्रियतम आसान उपस्थित है।

उत्तर 9. इस अलंकार में वर्ण या व्यंजन का बार-बार उपयोग होता है।

काव्यांश के भाविक सौंदर्य काव्यांश में खड़ी बोली छंद का प्रयोग है। अपनी तत्परता का वर्णन करने हेतु कवि 2 मुहावरों का सार्थक प्रयोग किया है ।जिसका आशय किसी से कोई संबंध नहीं रखने का है।

उत्तर 10 . ऊर्जा करना गांव की सुबह कगाने गिल चित्र है कविता में नीले रंग के प्रातः कालीन आकार के राख से लिखा हुआ चौका कहां गया है ग्रामीण परिवेश में ही ग्रहणी भोजन बढ़ने के बाद चौका कार से लीची है। जो काफी समय तक गिलन की रहता है। दूसरा लेस वाले जीव का है। पत्थर के काले टुकड़े पर केसर पीसने का काम भी गांव की महिलाएं ही करती हैं तीसरा दिन काले स्टेट पर लाल खड़िया चौक मिलने की किया ग्रामीण बालकों द्वारा होती है।यहां सवेरे अपने अपने कार्यों में लगे ग्रामीण जनजीवन की गतिशील को स्पष्ट करने वाले प्रतिमान हैं।  स्तता का नामोनिशान नहीं है।। गीत सिलता इस अर्थ में भी है तीनों शब्द चित्र ना होकर किस ना किसी क्रिया के अभी-अभी समाप्त होने के सूचक है।

उत्तर11. (क) इसका सर्वोत्तम उपाय यह है कि बाजार जाओ तो प्याली मन ना मन खाली हो ना बाजार ना जाओ बाजार जाओ जो किसी ना किसी हास्य से जाओ।

(ख) मन में लक्ष्य भरने का आशय है । कि मन लक्ष्य से भरा बाजार भी फैसला का पलवा ही रह जाएगा। तथा वहां घाव बिल्कुल नहीं दे सकेगा । आपितु आनंद देगा मतलब जाना जा रहे हो बता कि मैं यह सामान ही लूंगा।

उत्तर 12.

(क) रनीश्वरनाथ रेनू के उपन्यास का नाम मैला आंचल है।

(ख) सही इसलिए ठहराया क्योंकि जीजी कहती थी कि यह पानी की बर्बादी नहीं है जबकि इंद्र भगवान अर्ध देना है वह कहती मनुष्य जो चीज पाना चाहता है।देना पड़ता है इसी कारण दान को बड़ा माना गया है।

(ग) कुटटन के माता पिता के मृत्यु के पश्चात उसकी सास ने उसका लालन-पालन किया ।अपनी सास की तकलीफ देखकर उसने कसरत शुरू कर दी ।इसी तरह  वह चांद सिंह को हराकर राज पहलवान की आबादी प्राप्त की कुटटन के जीवन में परिवर्तन आया।

(घ) इसका  अस्य तरुण अपने भविष्य को लेकर चिंतित रहते हैं। वह अपने भविष्य को बताने में दिन रात एक कर देते  है। तरुण क्रांति सारधक होते हैं। तरुण के उत्साह को देखकर लगता है कि वह भविष्य को ही वर्तमान में लाना चाहते हैं जिससे उनका भविष्य उज्जवल होता है।

उत्तर 13. यशोधर बचपन से ही माता-पिता के देहांत हो जाने की वजह से जिम्मेदारियों के बोझ से लद गए वह सदैव पुराने लोगों के बीच रहे पले बढ़े अंत में वह परंपराओं को छोड़ नहीं सके यह यशोधर अपने आदर्श किस नंदा से अधिक प्रभावित हैं। और आधुनिक परिवेश में बदलते हुए जीवन मूल्यों और संस्कारों के विरुद्ध हैं। जबकि उनकी पत्नी अपने बच्चों के साथ परिवर्तित होती है। लेकिन यशोधर बाबू अभी भी किस नंदा के संस्कारों और परंपराओं से चिपके हुए हैं। यशोधर बाबू की पत्नी सुशील और  समझदार भी वह आधुनिक चमक के नए नए विचारों से ढलना जानती थी। व्यवहारिक ज्ञान भी पत्नी विद्वान है। कि हमें समय के अनुसार अपने अनुसार अपने आप को डाल लेना चाहिए।

उत्तर 14. डटे फुटेज खंडहर सभ्यता जहां कभी भी मनुष्य चुने हुए होते हैं बाद में उनके न रहने पर खंडहर ही बन जाते हैं मोहनजोदड़ो के लेखक को यह आभास होना है। कि इधर की किसी भी मकान की दीवार पर यह पीठ दिखा कर आराम कर सकता है किसी भी घर की दूरी पर पांव रखकर शरीर  सहम जाना है। रसोई की खिड़की पर खड़े होकर रसोई की गंध को महसूस किया जा सकता है। मोहनजोदड़ो और हड़प्पा का प्राचीन नगर नियोजन प्रस्तुता वस्तु करता शिल्प कला सड़क निर्माण आदि की जानकारी पर रोशनी डालता है। यहां के अद्भुत घरों में जब लोग बसे रहे होंगे तब सड़क पर वाहन भी चलते रहे। होंगे और बसी बसाई बस्तियां की चहल-पहल भी रही होगी इस प्रकार खंडेराव के आधार पर उनकी रहने सहने का दंग और सोचने के तरीकों को भी कल्पना की जा सकती है।

<CGBSE Class 12th Sociology Paper Set-A Solution< CGBSE Class 12th Sociology Paper Set-B Solution< CGBSE Class 12th Sociology Paper Set-C Solution.

CGBSE Class 12th political science Paper Set-A

CGBSE Class 12th History Set-B Paper Solution 2021

प्रश्न क्रमांक 1 का हल

सिंधु घाटी स्थलों के अवशेष हमें हड़प्पा वासियों के आहार के बारे में एक विचार देते हैं। बची हुई हड्डियों की मात्रा से पता चलता है कि जानवरों के मांस का सेवन बहुतायत में किया जाता था। लोगों ने मांस के अलावा कई तरह के अनाज और दालों जैसे–मटर चना अरहर चना और हरा चना खाया। हड़प्पा स्थलों साथ ही जौ में कई प्रकार के गेहूं पाए गए। इस बात के प्रमाण है कि हड़प्पा वासियों ने इतालवी बाजरा रागी साथ ही ज्वार और चावल की खेती की। उन्होंने तिल अलसी और सरसों जैसे तिलहनो का भी इस्तेमाल किया। वे अपने व्यंजनों में शायद और कोई जैसे मिठास का इस्तेमाल करते थे।

प्रश्न क्रमांक 2 का हल

यह दुनिया का सबसे पुराना नियोजित और उत्कृष्ट शहर माना जाता है यह सिंधु घाटी सभ्यता का सबसे परिपक्व शहर आया है नगर अवशेष सिंधु नदी के किनारे सरकार जिले में स्थित है मोहनजोदड़ो शब्द का सही उच्चारण है । मुअन जो दड़ो।

प्रश्न क्रमांक 3 का हल

श्री गायत्री देवी मंत्र

प्रश्न क्रमांक 4 का हल

बुद्ध के उपदेश 3 पिटको  में संकलित है यद्यपि सट्टा पिटक, विनय पिटक और अभिधम्मा पिटक कहलाते हैं।

यह पिटक बौद्ध धर्म के आगम है क्रियाशील सत्य की धारणा बौद्ध मत की मौलिक विशेषता है।

प्रश्न क्रमांक 4 का हल

महाभारत की मुख्य कथा मैं प्राचीन कालों की वास्तविकता ओं की प्रति ध्वनियां सम्मिलित हो सकती हैं। यह उत्तर वैदिक काल की जनजाति व्यवस्था को प्रतिबंधित कर सकते हैं परंतु इसके वर्णनात्मक एवं उपदेश आत्मा के अंतिम मौर्य काल के बाद के तथा गुप्त काल के विकसित समाजों में संबंधित हैं।

प्रश्न क्रमांक 6 का हल

गौतम बुद्ध (जन्म 563 ईसा पूर्व निर्माण 483 ईसा पूर्व) एक श्रमण थे जिनकी शिक्षाओं पर बौद्ध धर्म का प्रचलन हुआ इनका जन्म लुंबिनी में 563 ईसा पूर्व इच्वांगू छत्रिय शाक्य कुल के राजा शुद्धोधन के घर में हुआ था।

प्रश्न क्रमांक 7 का हल

स्तूप संस्कृत और पाली से लिया गया है जिसका शाब्दिक अर्थ डे होता है यह गोल टीले के आकार की संरचना है जिसका प्रयोग पवित्र बौद्ध अवशेष को रखने के लिए किया जाता है इसी स्तप को चैत्य भी कहा जाता है।

प्रश्न क्रमांक 8 का हल

खालसा पंथ की स्थापना गुरु गोविंद सिंह जी ने की थी। १६९९ को बैसाखी वाले दिन आनंदपुर साहिब में की।

प्रश्न क्रमांक 9 का हल

कबीर की उलटबांसी रचनाओं से तात्पर्य कबीर की उन रचनाओं से हैं जिनके माध्यम से कबीर ने अपनी बात को घुमा फिरा कर और प्रचलित अर्थ से एकदम विपरीत अर्थ में अपनी बात कही है।

प्रश्न क्रमांक 10 का हल

गुरु नानक देव जी ने अपने अंतिम समय में गुरु अंगद देव जी को गुरु पद पर बिठाया।

प्रश्न क्रमांक 11 का हल

हिंदू धर्म में नयनार भगवान शिव के भक्ति संत थे।

प्रश्न क्रमांक 12 का हल

जहांगीर ने 16 से 17 ईसवी में तंबाकू पर रोक लगा दी 

प्रश्न क्रमांक 13 का हल

आइन ए अकबरी 10 वीं शताब्दी का ग्रंथ है इसकी रचना अकबर के ही एक नवरत्न दरबारी अबुल फजल ने की थी इसमें अकबर के दरबार उसके प्रशासन के बारे में चर्चा की गई है इसके तीन खंड है जिनमें अंतिम खंड अकबर नामा के नाम से प्रदर्शित हैं।

प्रश्न क्रमांक 14 का हल

ओम राजाओं का संबंध असम राज्य से था।

प्रश्न क्रमांक 15 का हल

कृषि सबसे मुख्य आधार था और उसके बाद कुछ उद्योग भी अर्थव्यवस्था केदार थे जैसे सोना उद्योग नीलू जो और छोटे-छोटे और भी ढेर सारे उद्योग।

प्रश्न क्रमांक 16 का हल

1971 का भारत पाकिस्तान युद्ध के बाद भारत के शिमला में एक संधि पर हस्ताक्षर हुए इसे शिमला समझौता कहते हैं इसमें भारत की तरफ से इंदिरा गांधी और पाकिस्तान की तरफ से जुल्फीकार अली भुट्टो शामिल थे।

प्रश्न क्रमांक 17 का हल

बस्तर जिले एवं बस्तर संभाग का मुख्यालय जगदलपुर शहर है यह पहले दक्षिण कोशल नाम से जाना जाता था।

प्रश्न क्रमांक 18 का हल

आज के दिन को पूरे देश भर में बलिदान दिवस के तौर पर मनाया जाता है मंगल पांडे भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के पहले ऐसे क्रांतिकारी के जूनून अंग्रेजो के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद किया मंगल पांडे का यूं तो फांसी देने की तारीख 18 अप्रैल 1857 तय की गई थी।

प्रश्न क्रमांक 19 का हल 

संविधान को बनाने में 2 वर्ष 11 माह 18 दिन का समय लगा कुल 166 बैठकें हुई 26 नवंबर 1949 को अंगीकृत भारतीय संविधान को 26 जनवरी 1950 को लागू कर दिया गया।

प्रश्न क्रमांक 20 का हल

चावल राज्य की मुख्य फसल है यहां सर्वाधिक उत्पादन चावल का ही होता है प्रदेश में कुल कृषि योग्य भूमि के 67% भाग में चावल की खेती होती है।

CGBSE Class 12th Business studies Paper Set-B

प्रश्न 1. (स) 2

प्रश्न 2. (द) उपरोक्त सभी

प्रश्न 3. (अ) परिणाम से

प्रश्न 4. (ब) साधनों का अपव्यय

प्रश्न 5.

भावी अनिश्चिता दूर करने के लिए नियोजन आवश्यक है।

प्रश्न 6.

नियंत्रण प्रक्रिया में विचतनो को दूर करने के लिए जो उपाय किए जाते हैं उसे सुधारात्मक कदम कहते हैं।

प्रश्न 7.

चयन का अंतिम चरण प्लेसमेंट है।

प्रश्न 8.

अभिप्रेरण दो प्रकार के होते हैं-

सकारात्मक , नकारात्मक

प्रश्न 9.

प्रबंधक के प्रमुख कार्य निम्न है-

(i) नियोजन- नियोजन का अर्थ यह है कि पूर्व में ही यह निश्चय करना कि किसी कार्य को किसी निश्चित उद्देश्य की पूर्ति हेतु किस तरह, किस स्थान पर किस समय तथा किसके द्वारा किया जाना है।

(ii) संगठन- नियोजन द्वारा उद्देश्य एवं लक्ष्य आदि निर्धारित करने के पश्चात उन्हें कार्यान्वित करना होता है, जिन्हें प्रबंध संगठन के माध्यम से करता है।

(iii) नियुक्तियां- किसी भी संगठन के ढांचे का निर्माण तभी संभव है जब उसमें कुशल एवं योग्य व्यक्ति नियुक्त नियुक्तियां करना प्रबंध का प्रशासनिक कार्य है।